Sachin Pilot Biography in Hindi | सचिन पायलट जीवन परिचय

सचिन पायलट

सचिन पायलट

राजस्थान की राजनीतिक उथल पुथल में एक नाम उभर कर आया है। वह कोई नहीं कांग्रेस पार्टी के युवा नेता सचिन पायलट हैं। उन्हें कांग्रेस के वर्तमान अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबियों में से एक माना जाता है। वह एक राजनीतिज्ञ होने के साथ-साथ एक मोटिवेशनल स्पीकर भी हैं, जो समय समय पर युवाओं को जागरूक करते रहते हैं। जिसके चलते वर्तमान में वह अपने पिता स्वर्गीय राजेश पायलट के राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं। यहां उनके जीवन के अहम पहलुओं को विस्तार से बताया गया है। 14 वीं और 15 वीं लोकसभा में सांसद होने के अलावा, उन्होंने मनमोहन सिंह की सरकार में कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय में भी कार्य किया है।

जीवन परिचय (Biography/Wiki)

सचिन पायलट का जन्म 7 सितम्बर 1977 को साहरनपुर, उत्तर प्रदेश में हुआ था। वह एक राजनीतिक परिवार से संबंध रखते हैं। एक साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि मुझे राजनीति मेरे परिवार से मिली है। मेरी दिलचस्पी बचपन से ही राजनीति में थी। जिसके बाद फिर कुछ ऐसी परिस्थितियां बनीं की, मेरे पिता राजेश पायलट साहब का निधन हो गया। उसके बाद मैंने पार्टी चुनाव लड़ने का सोचा और जनता के प्रेम से मैं सांसद बन गया।

सचिन ने एयरफोर्स बाल भारती स्कूल, नई दिल्ली से अपनी प्राथमिक शिक्षा प्राप्त की। अपनी उच्च शिक्षा के लिए, उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय में सेंट स्टीफेंस कॉलेज में दाखिला लिया और स्नातक की डिग्री पूरी की। उसके बाद उन्होंने आईएमटी में भी दाखिला लिया। विपणन में डिप्लोमा करने के लिए वह गाजियाबाद गए। अपनी एमबीए की पढ़ाई के लिए उन्होंने पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय, फिलाडेल्फिया, संयुक्त राज्य अमेरिका के व्हार्टन स्कूल में दाखिला लिया।

स्नातक की पढ़ाई होने के बाद, उन्होंने ब्रिटिश ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन दिल्ली ब्यूरो के साथ काम करना शुरू किया और फिर अमेरिकी बहुराष्ट्रीय निगम जनरल मोटर्स के साथ दो साल तक काम किया।

सितंबर 2012 में, सचिन पायलट क्षेत्रीय सेना में एक अधिकारी के रूप में कार्यरत होने वाले भारत के पहले केंद्रीय मंत्री बने, सशस्त्र बल में शामिल होने से उन्होंने अपने पिता के सपने को भी पूरा किया।

राजनीतिक यात्रा (Political Journey)

वर्ष 2004 में, पायलट 14 वीं लोकसभा के लिए चुने गए और गृह मामलों पर लोकसभा की स्थायी समिति के सदस्य बने। पायलट वर्ष 2006 में नागरिक उड्डयन मंत्रालय में सलाहकार समिति के सदस्य बने। उसके बाद उन्होंने वर्ष 2009 के लोकसभा चुनावों में 76,000 मतों के अंतर से भारतीय जनता पार्टी की किरण महेश्वरी को हराया और अजमेर की सीट पर विजय प्राप्त की और सुचना एवं संचार के राज्य मंत्री बने। वर्ष 2012 में सचिन कॉर्पोरेट मामलों के राज्य मंत्री बने और वर्ष 2014 तक इस पद पर बने रहे। 14 दिसंबर 2018 को, उन्हें राजस्थान का उप-मुख्यमंत्री घोषित किया गया।

परिवार (Family)

सचिन पायलट एक गुज्जर समुदाय से संबंध रखते हैं। उनके पिता स्वर्गीय राजेश पायलट कांग्रेस पार्टी के दिग्गज नेता थे और माँ रमा पायलट एक गृहणी हैं। उनकी एक बहन है जिसका नाम सारिका पायलट है।

सचिन पायलट के पिता
सचिन पायलट के पिता
सचिन पायलट के पिता
सचिन पायलट के पिता

वर्ष 2004 में उनका विवाह उमर अब्दुल्लाह की बहन सारा अब्दुल्लाह से हुआ।

सचिन पायलट अपनी पत्नी के साथ
सचिन पायलट अपनी पत्नी के साथ

जिसके चलते उनके दो बेटे हैं आरान पायलट और वेहान पायलट।

सचिन पायलट अपने बेटों के साथ
सचिन पायलट अपने बेटों के साथ

करियर (Career)

उन्होंने प्रारम्भिक शिक्षा वायुसेना बाल भारती स्कूल, नई दिल्ली से प्राप्त की। जिसके बाद सचिन ने सेंट स्टीफेंस कॉलेज, दिल्ली और आईएमटी गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश स्नातक की पढ़ाई पूरी की। स्नातक करने के बाद सचिन ने पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के व्हार्टन स्कूल, फिलाडेल्फिया, यूएसए से परास्नातक की डिग्री प्राप्त की। उन्होंने चौदहवीं लोकसभा में राजस्थान के दौसा लोकसभा क्षेत्र से भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की ओर से प्रतिनिधित्व करते हैं।

रोचक तथ्य (interesting facts) 1)bbc

  • उन्हें संगीत गाना बहुत पसंद है।
  • उन्हें फ़िल्में देखना भी पसंद है।
  • उनका पसंदीदा अभिनेता आमिर खान और उन्हीं की ही फिल्म तारे जमीन पर बहुत पसंद है।
  • वह अपनी सेहत के प्रति काफी सजग हैं, जिसके चलते वह प्रतिदिन योगा और कसरत करते हैं।
  • उनकी पसंदीदा अभिनेत्री नरगिस, मधुबाला है।
  • उन्हें कुर्ता पायजामा पहनने का बहुत शौक है, क्योंकि वह उस पोषाक में स्वयं को आरामदायक महसूस करते हैं।
  • उनका पसंदीदा खेल क्रिकेट है।

सन्दर्भ    [ + ]

Related posts

Leave a Comment